Uncategorised

DRDO ने कमाल कर दिखाया, बिना पायलट वाला भारत का पहला लड़ाकू एयरक्राफ्ट बनाया

हमारा देश टेक्नोलॉजी में दिन बदिन नई उपलब्धियां हासिल करता जा रहा है और हर एक छेत्र में आगे बढ़ रहा है। इन्हीं सब उपलब्धियां में एक और नई कामयाबी शुमार हो चुकी है। हमारे भारत देश को मानव रहित लड़ाकू विमान तैयार करने के लक्षय में एक नई कामयाबी मिली है।भारत के रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने शुक्रवार को कर्नाटक के चित्रदुर्ग में देश के पहले पूरी तरह से स्वचालित विमान की प्रथम उड़ान सफलतापूर्वक पूर्ण कर ली है। यह हमारे पूरे देश के लिए एक गर्व का पल है। यह हमारे देश की सुरक्षा की ओर एक नया बढ़ता कदम है। इसकी सफल टेस्टिंग के साथ साथ ही इसकी सटीकता की जांच की गई और तो और इसे पूरी कामयाबी से साथ सुरक्षा पूर्वक लैंड भी करवा दिया गया।

रक्षा मंत्रालय के अनुसार, आने वाले समय में इससे भारत के लिए स्व संचालित विमान तैयार करने के नए रास्ते खुलेंगे और भारत के लिए यह काफी ऐतिहासिक और महत्वपूर्ण पाल है। इस उपलब्धि के साथ भारत अब वायु सेना में बाकी बड़े देशों को टक्कर देने की ओर एक और बड़ा कदम बढ़ा चुका है। इसे बनाने के बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि इसे वैमानिकी विकास प्रतिष्ठान (एडीई) के द्वारा बेंगलुरू में डिजाइन और तैयार किया गया है। यह डीआरडीओ की प्रमुख प्रयोगशालों में से एक बताई जाती है।

इस विमान के संचालन से जुड़ी आगे की जानकारी देते हुए कहा गया कि, यह विमान एक छोटे से टर्बोफैन इंजन की मदद से उड़ाय  जाता है और इस विमान में लगाए जाने वाले सभी एयरफ्रेम, अंडर कैरिज और संपूर्ण उड़ान नियंत्रण तथा वैमानिकी प्रणाली पूरी तरह से हमारे देश में ही बनाए गए हैं। आगे उन्होंने बताया कि यह मोदीजी के द्वारा शुरू किए गए आत्मनिर्भर भारत को तैयार करने की ओर एक काफी बड़ा एहम कदम है ।

Leave a Reply

Back to top button